Home Motivation Don’t know??? What can happen, Due to excessive cloth due to excessive...

Don’t know??? What can happen, Due to excessive cloth due to excessive heat due to excess of heat on that place, and taking a lot of hot water.

437
5
Don't know What can happen, Due to excessive cloth due to excessive heat due to excess of heat on that place, and taking a lot of hot water.

Creating a second life like yourself is described as the characteristic of every living being that it is special from a vessel; it is very important from one of them, which is very important that only the reproduction is saying that it is prajapatna which means that the birth of a progenitor is called pranabodana. Is it called vandyaavata
(खुद के जैसा दूसरा सजीव निर्माण करना यह हर एक सजीव की विशेषता बताई गयी है उनमे यह एक उनमे से विशेष है उनमे से एक विसेसता है जो की काफी महत्वपूर्ण है उसे ही प्रजोत्पादन कहते है प्रजोत्पादन छमता जिसमे है उसको ही जननक्षम कहते है जिसमे प्रजोत्पादन की छमता नहीं है उसे वंध्यत्व कहते है)

Taking into account the current situation, the evidence of male infertility is increasing. Lack of postcultural things in them Increasing addiction Addiction on the mind of work Increasing tension The wrong habits made in the youth Because of this reason, there is adverse effects on the production and growth of Venus. And as a result, people have to go through Vandhya’s mind.
(अभी की परिस्थति ध्यान में लेते हुए पुरुष वंध्यत्व का प्रमाण बढ़ता चला जा रहा है. उनमे पोस्टिक चीजों का आभाव बढ़ती हुई व्यसनाधीनता काम का दिमाग पर ज्यादा बढ़ता हुआ तनाव जवानी में किये गए गलत आदते। इश्कि वजह से शुक्र धातु निर्मिति और बढती पर दुष्परिणाम होते है. और परिणाम स्वरूप व्यक्तियों को वान्धत्या के गौर से गुजरना पड़ता है.)

REASON कारण

  • The main reason for male sterility is not to make the production of Venus and its increase is in evidence.
  • Venus animals are not ready at all. This condition is called azupermi
  • If this work is ready in evidence then it is called oligopomiei. The reasons for this are given below.

 

  • (पुरुष वंध्यत्व का प्रमुख कारण शुक्र धातु की निर्मिति नहीं होने और उसकी बढ़ोतरी काम प्रमाण में होना।
  • शुक्र जंतु बिलकुल भी तैयार न होना। इस अवस्था को एज़ूस्पर्मिए कहते है
  • अगर यह काम प्रमाण में तैयार होते है तो उसको ओलिगोस्पर्मीए कहते है. इनकी वजह नीचे दी गयी है।)

NOTE नोट

Do not get too late in test testis
(अंडकोष
वृषण में देरी से उतरना या बिलकुल भी नहीं उतरना)

After 1-Ovary, not in natural proof
2-Accident, operation, and emission of X-ray rays reach the testicles.
3- Due to excessive cloth due to excessive heat accumulation of heat on that place and taking a lot of hot water. That is the result of the contamination of the temperature on the test.
4- Other psychological and physical illnesses.
After 5 to 40 years of age, genetic suppression of men decreases.

(१-अंडाशय की बाद स्वाभविक प्रमाण में नहीं होना।
२-दुर्घटना, ऑपरेशन, और क्ष-रे किरणों का उत्सर्जन अंडकोष को नुकशान पोहचाते है।
३- बहुत ज्यादा कसे हुए कपड़ो की वजह से उस जगह पर गर्मी का बहतु ज्यादा बढ़ने पर और बहुत गरम पानी का सेक लेने से। वह तापमान का अंडकोस पर दूषित परिणाम होता है.
४- अन्य मानशिक और शारीरिक बीमारिया.
५-४० साल उम्र क बाद पुरषो की जननक छमता कम हो जाती है.)

Both semen carrier hose and obstruction of Venus canal
Vagacity from birth – not only the semen carrier tube from birth.
Causes of premature rupture of premature ejaculation
(दोनों वीर्य वाहक नली का और शुक्र नलिका में बाधा आना।
जनम से ही वैगुण्यता – जनम से ही वीर्य वाहक नली का नहीं होना।
प्रजोत्पादन की असमर्थाता होने के कारन समय से पहले ही वीर्य पतन होना।)

Gender disease like pneumothorax
Exhale semen at the time of intercourse
The components of semen are physically visible and chemical due to non-irritable.
Dream fall of early fall dream of metal from pisab, thin pan in semen. Because of this, men are at risk of fertility.(फिमोसिस जैसे लिंग की बीमारी होना।
सम्भोग के समय वीर्य का एकदम से बहार आजाना।
वीर्य के घटक शारीरिक दृष्टया और रासायनिक दृष्टया अस्वाभिक होने के कारण।
शीघ्र पतन स्वप्न दोष पिसाब में से धातु का जाना, वीर्य में पतला पैन होना। इस वजह से पुरुष वंध्यात्वता का खतरा होता है.)

Ayurvedic Medicine आयुर्वेदिक चिकित्सा

In the treatment of male voraciousness, it is necessary to find the exact cause and follow the procedure accordingly. For the first time, the exact description of semen which is written in Ayurveda, reads to take special care on making exact semen in the process of removing impurities in semen. The first condition of pregnancy is that the treatment of Panchkarma for the body purification is very beneficial.(पुरुष वंध्यात्वता की चिकित्षा करते समय सटीक कारण का ढूंढ़ना और उसके अनुरूप चिकित्षा करनी पड़ती है। सबसे पहले आयुर्वेद में जो लिखी गयी वीर्य की सटीक वर्णन किया गया है उसके लिए वीर्य में के दोष निकाल के प्रकुरुत सटीक वीर्य निर्मिति करने के ऊपर विशेष ध्यान रखना पढ़ता है। गर्भ धारणा की पहली स्थिति यानि शरीर शुध्धि क लिए पंचकर्मो का उपचार बहुत लाभदायक है।

Dysfunctional daily routine, seasons (every three months), diet (food), and sleep well should be taken.

In this, there are physical cleansing of Shirodhara Vaman, Virekan Basti, Uttara Basti, and other such treatments. And by increasing the power of the kindergarten senses, attraction increases in men and women by becoming the questionnaire.

Venus is Ayurveda’s seventh place metal. It has a place of life and strength. Semen in male body is prepared due to Venus(बिगड़ी हुई रोज की दिनचर्या, ऋतुचर्या(हर तीन माह में ) , आहार (खाना ), और नींद अच्छी तरह से की जनि चाहिए।

इसमें शिरोधारा वमन, विरेचन बस्ती, उत्तर बस्ती, इसके जैसे उपचार लेने से शारीरिक शुध्धि तो होती है उसके आलावा बिज सुधि, होती है। और सरपरकार की इन्द्रयों की ताकत बढ़ने से मन प्रशन होकर पुरुष और महिला में आकर्षण बढ़ता है।

आयुर्वेद क अनुशार शुक्र एक सातवे स्थान का धातु है। इसमें प्राण और शक्ति का स्थान है। पुरुष सरीर में का वीर्य शुक्र धातु के कारण तैयार होता है)

Therefore, in order to increase Venus, milk will be used in milk, butter ghee, sweet sugar, sugar (sweet) sugar, ghee, black raisins, touches,
Vitamin Metal body strength can be increased by eating such figurines, figs, almonds

Milk should be used more than enough because it is the best chemistry and the fluid to increase the fruity. Every night, every night, four to five almonds, soaked in water, eat only after eating. And along with it is the panchamrita food and the saffron powder should be eaten in the morning before breakfast.

With the use of yoga and Kalpo written in ayurveda like this, like vanary kalpa, florer, bushy vati, armor beach, mushali chutra, ashtiran kalpa, Ayurveda can win concrete diseases such as vulnerability.

The patients treated with the advice of qualified doctors have started treatment.

  • SUNIL
  • SACHIN
  • SUNITA 

(इसलिए शुक्र धातु की बढ़ोतरी करने के लिए खाने में दूध लोनी घी , मीठी शक्कर, मिश्री (मीठी)शक्कर , घी, काली किशमिश , छुआरे ,
अंजीर, बादाम , ऐसी सात्विक चीजों के सेवन करके शुक्र धातु एंवम शरीर शक्ति को बढ़ाया जा सकता है

दूध का बहुत ज्यादा से ज्यादा उपयोग किया जाये क्युकि यह श्रेष्ठ रसायन है और शुक्र बढ़ाने का फ्लूइड है हर रोज़ रात को पनि में भिगोय हुए चार से पांच बादाम सुबहे उठते ही खाने है। और उसके साथ साथ पंचामृत खाने है और केशर की चूरे को इखट्टा मिला कर सुबह नाश्ते से पहले खाना चाहिए।

वानरी कल्प , पुष्पगंधवटी, वृष्य वटि , कवच बीच , मूषलि चूर्ण , शतावरी कल्प ,इस जैसे आयुर्वेद में लिखे हुए योग और कल्पो का योगये तरीको से सटीक उपयोग करने से वंध्यात्वता जैसी गंभीर बीमारयों से विजय प्राप्त कर सकते है

सम्भंदित रोगियों ने योग्य वैद्यो की सलाह लेकर इलाज सुरु करवाया है।)

  • SUNIL
  • SACHIN
  • SUNITA 

 

आर्टिकल के सम्पादक – डॉ. हर्ष वर्धन

5 COMMENTS

  1. Verү nice ρost. I simply stumbled upon your weblog аnd wished to mentiоn tһat I haᴠe truly enjoyed surfing around your weƄlog
    ρoѕts. After all Ι will be subscribing on your rss feed and I’m һoping you write again soon!

  2. you’re in point of fact a just right webmaster.
    The web site loading speed is amazing. It kind of feels that you’re doing any
    unique trick. In addition, The contents
    are masterwork. you have done a magnificent task on this topic!

  3. I do agree with all the ideas you’ve offered for your post.
    They’re very convincing and can certainly work.
    Still, the posts are very quick for newbies.
    May just you please lengthen them a little from
    subsequent time? Thank you for the post.

  4. Yesterday, while I was at work, my cousin stole my
    apple ipad and tested to see if it can survive a forty foot drop, just so she can be a youtube sensation. My iPad
    is now destroyed and she has 83 views. I know this is entirely
    off topic but I had to share it with someone!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

two × 3 =